Chandra Grahan May 2021, Chandra Grahan Kab hai, Grahan से जुड़े सभी तथ्य

Chandra Grahan May 2021: यह साल का पहला चंद्रग्रहण है इसके बाद दूसरा और आखिरी चंद्रग्रहण 19 नवंबर को लगेगा। यह पूर्ण चंद्रग्रहण होगा जिसमें चंद्रमा लाल रंग का दिखाई देगा जिसे सुपर ब्लड मून भी कहा जाता है। भारत में यह चंद्रग्रहण दिखाई नहीं देगा क्योंकि यहां पर उपछाया चंद्रग्रहण होगा। 

चंद्रग्रहण दोपहर 2 बजकर 17 मिनट से आरंभ हो जाएगा जो शाम के 7 बजकर 19 मिनट तक रहेगा। उपछाया चंद्रग्रहण के कारण भारत में सूतक मान्य नहीं होगा। जिसकी वजह से किसी भी तरह के कार्य में कोई भी बाधा नहीं आएगी। यह चंद्रग्रहण अनुराधा नक्षत्र जोकि शनिदेव का नक्षत्र भी है उसमें पड़ेगा और वृश्चिक राशि में चंद्रमा को गोचर रहेगा। 

Chandra Grahan क्या होता है?

चंद्र ग्रहण तब होता है जब चंद्रमा पृथ्वी की छाया में चला जाता है। यह तभी हो सकता है जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा अन्य दो के बीच पृथ्वी के साथ बिल्कुल या बहुत निकटता से जुड़े हों, और केवल पूर्णिमा की रात को।

Chandra Grahan के समय क्या ना करें?

आज दोपहर 2 बजकर 17 मिनट से पूर्ण चंद्रग्रहण लगने जा रहा है। हालांकि भारत में यह उपछाया चंद्रग्रहण होगा और यह भारत के पूर्वी भागों में कुछ ही मिनटों के लिए दिखाई देगा। उपछाया चंद्रग्रहण के कारण इसका सूतक मान्य नहीं होगा।

Corona Vaccine के लिए यहां रजिस्टर करें

फिर भी जब-जब चंद्रग्रहण होता है तो शास्त्रों में इस दौरान भूल कर भी कुछ कार्य नहीं करना चाहिए। जैसे सूतक के शुरू होने से लेकर इसकी सामाप्ति तक कोई भी नया कार्य नहीं करना चाहिए।

सूतक के दौरान न तो खाना बनाना चाहिए और न ही भोजन करना चाहिए। ग्रहण के दौरान घर पर बने मंदिर में भगवान की मूर्ति का स्पर्श नहीं करना चाहिए। सूतक काल के दौरान मंदिरों के दरवाजे बंद कर देना चाहिए।

देश में चंद्रग्रहण दिखेगा या नहीं?

बस अब से थोड़ी देर बाद साल का पहला चंद्रग्रहण लगने वाला है। लेकिन यह ग्रहण भारत के अधिकतर लोग नहीं देख सकेंगे। दिन होने वजह से भारत के अधिकतर लोग इस नजारे का नहीं देख सकेंगे। लेकिन पूर्वी भारत के हिस्सों में थोड़ी देर के लिए इसे देखा जा सकेगा।

Phone पर चन्द्र ग्रहण कैसे देखे

अगर आप आज लगने वाले चंद्रग्रहण को देखने में रूचि रखते हैं तो आप कुछ यूट्यूब चैनल्स पर इसे लाइव स्ट्रीमिंग के जरिए देख सकते हैं। खासतौर पर timeanddate और cosmoSapiens पर।

Chandra Grahan से जुड़ी धार्मिक मान्यता

जिन जातकों पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है उन्हें शनि साढ़ेसाती के प्रभाव को कम करने के लिए शनि मंत्र का जाप करना व श्री हनुमान चालीसा का पाठ करना शुभ रहेगा। इसके अलावा ग्रहण के प्रभाव को कम करने के लिए गायत्री मंत्र, महामृत्युंजय, दुर्गा चालीसा, विष्णु सहस्त्रनाम और श्रीमद्भागवत गीता का पाठ करना चाहिए

Who is new CBI director IPS Subodh Kumar Jaiswal ? Biography,career.

Leave a Comment